Life Style

इन राशि वालों को सफलता पाने के लिए करना पड़ता है बहुत संघर्ष, क्या आप भी शामिल हैं इस लिस्ट में

Loading...


Loading...

Astrology, Zodiac Sign : ज्योतिष शास्त्र के अनुसार ग्रहों के कमजोर होने से कभी-कभी व्यक्ति को बहुत संघर्ष करना पड़ जाता है. ये ग्रह राशियों को भी प्रभावित करते हैं. इन राशि वालों को सफल होने के लिए बहुत अधिक मेहनत करनी पड़ती है. संघर्ष के बाद ऐसे लोग बड़ी सफलता प्राप्त करते हैं. ये राशियां कौन सी हैं, आइए जानते हैं.

वृषभ राशि (Taurus)- जिन लोगों की वृषभ राशि होती है, उन्हें सफलता पाने के लिए दूसरों की तुलना में अधिक संघर्ष करना पड़ता है. लेकिन ये लोग धुन के पक्के होते हैं. जिस चीज को करने की मन में ठान लेते हैं उसे पूरा करके ही दम लेते हैं. जिस कारण लंबे संघर्ष और परिश्रम के बाद ये सफलता प्राप्त कर ही लेते हैं. ये बहुत ही परिश्रमी होते हैं. ये अपने लक्ष्य को लेकर बहुत ही गंभीर होते हैं. एक बार लक्ष्य का निर्धारण कर लेने के बाद उसे पूरा किए बगैर इन्हें चैन नहीं मिलता है. जिन लोगों का नाम ई, ऊ, ए, ओ, वा, वी, वू, वे, वो से आरंभ होता है, उनकी वृषभ राशि कहलाती है.

Loading...

वृश्चिक राशि (Scorpio)- वृश्चिक राशि वालों को समझ पाना बहुत ही मुश्किल होता है. ये बिना शोर किए अपने काम में लीन रहते हैं. वृश्चिक राशि पर जब शुभ ग्रहों की दृष्टि होती है तो ये लोग अपने लक्ष्य को देर सबेर प्राप्त कर ही लेते हैं. ये आसानी से हिम्मत नहीं हारते हैं. ये सदैव कुछ न कुछ कार्य करते ही रहते हैं. इन्हें खाली बैठना अच्छा नहीं लगता है. ये समय की कीमत को बहुत अच्छे ढंग से जानते हैं. एक बार लक्ष्य तय कर लेने के बाद इस राशि के जातक उसे पूरा करने में जुट जाते हैं. इन्हें रोक पाना असंभव होता है. ये धीरे-धीरे अपने लक्ष्य के प्रति बढ़ते रहते हैं और अथक परिश्रम और संघर्ष के बाद सफलता पाने में सफल हो ही जाते हैं.  जिन लोगों का नाम इन अक्षर तो, ना, नी, नू, ने, नो, या, यी, यू से आरंभ होता है, उनकी वृश्चिक राशि होती है.

मकर राशि (Capricorn)- मकर राशि वाले बहुत ही परिश्रमी होते हैं. ये अपनी मेहनत से सफलता प्राप्त कर ही लेते हैं. नियमों का पालन करना इन्हें अच्छा लगता है. ये सफल होने के लिए गलत मार्ग का प्रयोग नहीं करते हैं. शुभ ग्रहों की दृष्टि होने से जीवन में ये अपार सफलता प्राप्त करते हैं. मकर राशि के स्वामी शनि देव है. ज्योतिष शास्त्र में शनि देव को कर्मफलदाता भी कहा गया है. ये एक कर्मप्रधान राशि है. इन्हें काम करना पसंद है. ये अपने लक्ष्य को लेकर बहुत ही समर्पित रहते हैं. ये जीवन में अच्छी सफलता प्राप्त करते हैं. इसके साथ ही सम्मान भी इन्हें खूब प्राप्त होता है. जिन लोगों का नाम भो, जा, जी, खी, खू, खे, खो, गा, गी, है, से शुरु होता है उनकी मकर राशि होती है.

Loading...

Disclaimer: यहां मुहैया सूचना सिर्फ मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है. यहां यह बताना जरूरी है कि ABPLive.com किसी भी तरह की मान्यता, जानकारी की पुष्टि नहीं करता है. किसी भी जानकारी या मान्यता को अमल में लाने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से सलाह लें.

यह भी पढ़ें:
8 दिन बाद सूर्य बदलेंगे राशि, कुंभ राशि में करेंगे गोचर, इन चार राशियों को रहना होगा सावधान

Loading...

Chanakya Niti : पति और पत्नी के रिश्ते को मजबूत बनाती हैं चाणक्य की ये अनमोल बातें



Source link

Loading...

Loading...
Loading...

Share your feedback here