Life Style

शनि की बदलती चाल से इन 4 राशि के लोग हो जाएं सतर्क, धन हानि की आशंका

Loading...


Loading...

Shani Rashi Parivartan 2022: शनि को न्याय का देवता माना जाता है. जो व्यक्ति को उसके कर्म के अनुसार फल देते हैं. यानी कि व्यक्ति के कर्म अच्छे होंगे तो अच्छे परिणाम ही मिलेंगे, वहीं कर्म बुरे होंगे तो बुरे फल प्राप्त होंगे. इसके अलावा कुंडली में शनि की स्थिति भी ये बताती है कि शनि आपके लिए कैसे रहेंगे. शनि हर ढाई साल में अपना राशि परिवर्तन करते हैं. फिलहाल शनि मकर राशि में गोचर कर रहे हैं. शनि की इस राशि में गोचर की अवधि अब समाप्त होने को हो. तो ऐसे में कुछ राशि वालों को शनि के प्रकोप से मुक्ति मिल जाएगी तो कुछ राशियां शनि की चपेट में आ जायेंगी. जानिए शनि कब बदलेंगे राशि और किन्हें रहना होगा शनि की इस चाल से सावधान.

शनि का राशि परिवर्तन इनके लिए शुभ: तो बता दें कि 29 अप्रैल को शनि अपनी राशि बदलेंगे. इस दौरान ये मकर राशि से कुंभ राशि में प्रवेश कर जायेंगे. खास बात ये है कि ये शनि की सबसे प्रिय राशि है क्योंकि शनि इस राशि के स्वामी ग्रह हैं. शनि की चाल में बदलाव का सबसे शुभ प्रभाव धनु राशि वालों पर पड़ेगा. इस राशि वालों को पूरे साढ़े सात साल बाद शनि की साढ़े साती से मुक्ति मिल जाएगी. जिससे जो काम आपके शनि की इस दशा के कारण रूके हुए थे वो पूरे होंगे. आर्थिक स्थिति पहले से बेहतर होगी. कुल मिलाकर आपका समय अच्छा आने वाला है. मिथुन और तुला वालों के लिए भी शनि की बदलती चाल शुभ साबित होगी. क्योंकि इन दोनों राशि वालों को भी शनि की ढैय्या से मुक्ति मिल जाएगी. 

Loading...

इन्हें रहना होगा सावधान: शनि के कुंभ राशि में गोचर शुरू करते ही 3 राशि वालों पर शनि की दशा शुरू हो जाएगी. ये राशियां हैं कर्क, वृश्चिक और मीन. बता दें कर्क और वृश्चिक वालों पर शनि की ढैय्या शुरू होगी तो मीन वालों पर शनि की साढ़े साती. इसलिए इन तीनों राशियों के लोगों को बेहद सतर्क रहना होगा. जिन जातकों की कुंडली में शनि कमजोर स्थिति में हैं उनके कष्ट बढ़ने वाले हैं. तो ऐसे में आपको शनि से संबंधित उपाय शुरू करने की सलाह दी जाती है. जिससे शनि के बुरे प्रभाव से बचा जा सके.

शनि को मजबूत करने के उपाय: शनि देव को प्रसन्न करने का सबसे सरल उपाय है हर शनिवार शनि देव की विधि विधान पूजा करें. उनके समक्ष सरसों के तेल का दीपक जलाएं. पीपल के पेड़ की पूजा करें. शनि से संबंधित चीजों का दान करें. जितना हो सके जरूरतमंदों की सहायता करें.

Loading...

Disclaimer: यहां मुहैया सूचना सिर्फ मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है. यहां यह बताना जरूरी है कि ABPLive.com किसी भी तरह की मान्यता, जानकारी की पुष्टि नहीं करता है. किसी भी जानकारी या मान्यता को अमल में लाने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से सलाह लें.

यह भी पढ़ें:

Loading...



Source link

Loading...
Loading...

Share your feedback here