Make Money Online

1 रुपये से कम कीमत के इस स्टॉक ने बदली निवेशकों की किस्मत, 1 लाख बन गए ₹65.06 लाख, आपके पास है क्या?


नई दिल्ली. सिम्प्लेक्स पेपर्स के स्टॉक (Simplex Papers stock) ने पिछले एक साल में अपने शेयरधारकों को 6,406% रिटर्न दिया है. पेनी स्टॉक (Penny stock) जो 3 दिसंबर, 2020 को 0.80 रुपये था, शुक्रवार को यह बीएसई पर 52-सप्ताह के उच्च स्तर 52.05 रुपये पर पहुंच गया. एक साल पहले सिम्प्लेक्स पेपर्स के स्टॉक में निवेश की गई एक लाख रुपये की रकम आज 65.06 लाख रुपये हो जाती.

इसकी तुलना में इस दौरान सेंसेक्स 29.82 फीसदी चढ़ा है. पिछले 21 सेशन में माइक्रोकैप स्टॉक 169.69% चढ़ा है. शेयर 4.94% की बढ़त के साथ 52.05 रुपये पर खुला और अधिकांश सत्र के लिए 5% के ऊपरी सर्किट में फंसा रहा.

फर्म का मार्केट कैप बढ़कर 15.62 करोड़ रु हुआ
सिम्प्लेक्स पेपर्स का स्टॉक 5 दिन, 20 दिन, 50 दिन, 100 दिन और 200 दिन की चलती औसत से अधिक है. फर्म का मार्केट कैप बढ़कर 15.62 करोड़ रुपये हो गया. फर्म के कुल 18,000 शेयरों ने आज बीएसई पर 9.30 लाख रुपये का कारोबार किया. सितंबर 2021 को समाप्त तिमाही के लिए, 13 प्रमोटरों के पास 72.05% हिस्सेदारी या 21.62 लाख शेयर और सार्वजनिक शेयरधारकों के पास कंपनी की 5,174 27.95% हिस्सेदारी या 8.38 लाख शेयर थे.

ये भी पढ़ें- खुशखबरी- 1 सप्ताह बाद किसानों के खाते में आएंगे 4000 रुपये, राज्य सरकारों ने कर ली है तैयारी, चेक करें स्टेटस

इस साल की शुरुआत से 5,814% तक उछला यह शेयर
सितंबर तिमाही के अंत में 5,047 सार्वजनिक शेयरधारकों के पास 2 लाख रुपये तक की व्यक्तिगत शेयर पूंजी थी और उनके पास 3.76 लाख शेयर या 12.54% हिस्सेदारी थी. पिछली तिमाही में किसी भी शेयरधारक के पास 2 लाख रुपये से अधिक की व्यक्तिगत शेयर पूंजी नहीं थी. एक म्यूचुअल फंड के पास फर्म में 102 शेयर थे. सितंबर तिमाही के अंत में जीवन बीमा निगम (LIC) के पास फर्म की 12.91% हिस्सेदारी या 3.87 लाख शेयर थे.
21 दिसंबर, 2020 को शेयर 52-सप्ताह के निचले स्तर 0.84 रुपये पर पहुंच गया. स्टॉक एक महीने में 157.04% बढ़ा है और इस साल की शुरुआत से 5,814% तक उछला है.

ये भी पढ़ें- Petrol Price Today: पेट्रोल डीजल के नए रेट जारी, इस शहर में सिर्फ 82 रुपये लीटर मिल रहा पेट्रोल, जानें आज का भाव

जानें अन्य डिटेल्स
ओरिएंटल इंश्योरेंस कंपनी के पास फर्म की 1.70% हिस्सेदारी या 50,940 शेयर थे. सितंबर तिमाही के अंत में 9 वित्तीय संस्थानों के पास फर्म में 4,942 शेयर या 0.16% हिस्सेदारी थी.
हालांकि, वित्तीय प्रदर्शन फर्म के स्टॉक में शानदार वृद्धि के अनुरूप नहीं है. मार्च 2017 को समाप्त तिमाही के बाद से फर्म ने शून्य बिक्री दर्ज की है. पिछली बार दिसंबर 2016 को समाप्त तिमाही में इसकी बिक्री 0.08 करोड़ रुपये थी.
एक साल में आंध्र पेपर के शेयर में 11.93% की बढ़ोतरी हुई है, वहीं ओरिएंट पेपर की हिस्सेदारी में 61% की बढ़ोतरी हुई है. इस अवधि के दौरान वापी पेपर मिल्स के शेयर में 42.64% की गिरावट आई है. Agio पेपर लिमिटेड के स्टॉक ने पिछले एक साल में 345.65% की रैली देखी है.

Tags: Business news in hindi, Earn money, How to earn money, Multibagger stock, Stock tips



Source link

Share your feedback here