Make Money Online

Mutual Fund में कम्पाउंडिंग का पावर, 150 रुपए रोज जमा कर बना सकते हैं 10 लाख से ज्यादा का फंड, जानिए कैसे

Loading...


Mutual Fund Investment: बदलते वक्त में म्यूचुअल फंड (Mutual Funds) निवेश के पसंदीदा विकल्पों में से एक बना हुआ है. म्यूचुअल फंड में SIP (सिस्टेमेटिक इन्वेस्टमेंट प्लान) के माध्यम से निवेश करना सबसे ज्यादा प्रचलित है. एसआईपी की कम्पाउंडिंग पावर इसे सबसे आकर्षक बनाती है. कम्पाउंडिंग पावर की वजह की म्यूचुअल फंड में ब्याज मूलधन में जुड़ता रहता है और उस पर ब्याज मिलता रहता है. लिहाजा निवेश की रकम तेजी से बढ़ती है.

Loading...

आप हर रोज या हर महीने एक निश्चित रकम जमा कर लाखों का फंड जमा कर सकते हैं. जैसे मान लीजिए आप रोज 100 रुपए या 150 रुपए एसआईपी में जमा करते तो लंबे अवधि में लाखों का फंड खड़ा कर सकते हैं. यहां हम इसी निवेश और रिटर्न के गणित को समझेंगे.

रोजाना 150 रुपए जमा पर मोटा रिटर्न
अगर आप एसआईपी में रोज 150 रुपए जमा करते हैं तो महीने में आप 4500 रुपए का फंड निवेश कर देंगे. अमूमन अच्छे Mutual Funds औसत 12 से 20 फीसदी तक सालाना रिटर्न दे देते हैं. अगर मान लीजिए आपने जिसमें निवेश किया अगर वो Mutual Funds सालाना 12 परसेंट का रिटर्न देता है तो आप आप 10 साल में 10.45 लाख रुपये से ज्यादा का फंड तैयार कर लेंगे. अगर सालाना रिटर्न 15 फीसदी रहता है तो आपकी निवेश रकम 12.54 लाख रुपये तक पहुंच सकती है.

Loading...

यह भी पढ़ें- स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी की पढ़ाई छोड़ ग्रॉसरी डिलीवरी स्टार्टअप शुरू किया, 750 करोड़ जुटाए, 5 महीने में वैल्यू दोगुनी हुई

कुछ फंड्स ने और अधिक रिटर्न दिया
कुछ ऐसे Mutual Funds स्कीम्स भी हैं जिसने निवेशकों की झोली भर दी. उनका रिटर्न पिछले 10 साल में 25 फीसदी से अधिक रहा है. जैसे कि मोतीलाल ओसवाल नैस्डैक 100 एक्सचेंज ट्रेडेड फंड का 10 साल का वार्षिक रिटर्न 26 प्रतिशत से अधिक रहा है. इसी तरह निप्पॉन इंडिया ईटीएफ बैंक बीईएस ने 10 साल में 16 फीसदी से ज्यादा का भारी भरकम रिटर्न दिया है. पिछले 10 साल में कई ऐसे फंड हैं, जिनका सालाना एसआईपी रिटर्न 12 फीसदी से ज्यादा रहा है. इसमें निवेशक को सीधे बाजार के जोखिम का सामना नहीं करना पड़ता है.

Loading...

100 रु से करें शुरुआत
एसआईपी की खासियत यह है कि आप महज 100 रुपये प्रति माह से निवेश की शुरुआत कर सकते हैं. इसके जरिए आप आराम से निवेश की आदत डाल सकते हैं, जोखिम को कम रख सकते हैं और बढ़िया रिटर्न प्राप्त कर सकते हैं.

यह भी पढ़ें- Indian Railway : ट्रेनों में डिस्पोजल कंबल-तकिया के साथ टूथ पेस्ट-मास्क भी, जानिए रेलवे किट की खासियत और कीमत

Loading...

एसआईपी में नियमितता से ज्यादा फायदा
जानकार यह भी कहते हैं कि शेयर बाजार में गिरावट आए तो एसआईपी न रोकें. यदि आप गिरावट के दौरान एसआईपी रोकते हैं तो आपको कम लागत पर ज्यादा म्यूचुअल फंड्स यूनिट खरीदने का फायदा नहीं मिलेगा. गिरावट के दौरान एसआईपी न रोकने पर आपको अधिक यूनिट्स प्राप्त करने में मदद मिलेगी. इसलिए आपके रिटर्न में वृद्धि होगी. क्योंकि जब मार्केट चढ़ेगी तो आपकी यूनिट्स की वैल्यू भी बढ़ेगी. एक और बात का ध्यान रखें कि बढ़िया फंड चुनने के लिए उसके 5 से 10 साल का प्रदर्शन देखें.

Loading...

Tags: Investing Rs 30 a day in SIPs, Mutual funds, Returns of mutual fund SIPs, SIP, Systematic Investment Plan (SIP)



Source link

Loading...

Loading...
Loading...

Share your feedback here