Life Style

देवताओं के गुरु बृहस्पति होने जा रहे हैं ‘अस्त’, इन राशियों को क्या फल देंगे ‘गुरु अस्त’ जानें

Loading...


Loading...

Horoscope, Guru Asta 2022 : पंचांग की गणना के अनुसार देव गुरु बृहस्पति अस्त होने जा रहे हैं.  गुरु यानि बृहस्पति 19 फरवरी 2022, शनिवार को सुबह 11 बजकर 13 मिनट पर कुंभ राशि में अस्त होंगे. 20 मार्च 2022, रविवार को सुबह 9 बजकर 35 मिनट पर इसी राशि में गुरु अपनी सामान्य अवस्था में वापस आ जाएंगे. इन राशियों पर गुरु अस्त का क्या प्रभाव पड़ने जा रहा है, जानते हैं राशिफल.

मेष राशि (Aries)- गुरु का अस्त होना मेष राशि वालों के लिए महत्वपूर्ण है. इस दौरान जॉब और व्यापर में कुछ परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है. कार्य स्थल पर अपने सीनियर के साथ मनमुटाव या कुछ भ्रम की स्थिति बन सकती है. न चाहते हुए भी यात्रा करनी पड़ सकती है. पार्टनर के साथ संबंध प्रभावित हो सकते हैं. धन के मामले में भी बाधा और परेशानी का सामना करना पड़ सकता है. धैर्य बनाए रखना होगा. रिश्तेदार, मित्र और बड़े भाई – बहनों के साथ वाद – विवाद की स्थिति बन सकती है. इससे बचने का प्रयास करें.

Loading...

Astrology : घर और ऑफिस में छा जाती हैं, जिन लड़कियों की होती है ये राशि, लक्ष्मी जी भी रहती है मेहरबान

कर्क राशि (Cancer)- कर्क राशि वालों के लिए गुरु का अस्त होने कुछ मामलों में नकारात्मक फल प्रदान करने जा रहा है. इसलिए सावधानी बरतनी होगी. लक्ष्य को पूरा करने में दिक्कत आ सकती है. जिस कारण कार्य स्थल पर मान सम्मान में कमी आ सकती है. जिम्मेदारियों में भी कमी आ सकती है. ये स्थिति मानसिक परेशानी का कारण बन सकती है. कर्ज लेने की स्थिति से बचें. पुराना  रोग है तो उसे लेकर गंभीर होने की जरुरत है. सेहत के मामले में किसी भी प्रकार की लापरवाही आपके लिए ठीक नहीं है. व्यापार में निवेश सोच समझ कर करें. हानि हो सकती है. परिजनों के लिए कम समय निकाल पाएंगे. धैर्य बनाए रखना होगा. नकारात्मक विचारों से दूरी बनाकर रखें.

Loading...

तुला राशि (Libra)- तुला राशि वालों के लिए गुरु का अस्त होना मिले-जुले परिणाम लेकर आ रहा है. इस दौरान संबंध खास तौर पर प्रेम संबंधों पर ध्यान देना होगा. उच्च पदों पर बैठे लोगों से संबंध प्रभावित हो सकते हैं. प्रतिद्वंदी भी सक्रिय रहेंगे. और तरक्की में बाधा पहुंचाने का कार्य कर सकते हैं. इसलिए विशेष सावधानी बरतनी होगी. बॉस से संबंध मधुर बनाए रखने की कोशिश करें. बिजनेस में सफलता प्राप्त करने के लिए अधिक परिश्रम करना पड़ सकता है. जीवनसाथी का ध्यान रखें. वाद विवाद की स्थिति से बचें. गलत लोगों की संगत हानि पहुंचा सकती है. इस पर ध्यान देना होगा.

Disclaimer: यहां मुहैया सूचना सिर्फ मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है. यहां यह बताना जरूरी है कि ABPLive.com किसी भी तरह की मान्यता, जानकारी की पुष्टि नहीं करता है. किसी भी जानकारी या मान्यता को अमल में लाने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से सलाह लें.

Loading...

यह भी पढ़ें:
February 2022 Calendar : फरवरी में कब है बसंत पंचमी, माघ पूर्णिमा और विजय एकादशी, जानें डेट और तिथि



Source link

Loading...

Loading...
Loading...

Share your feedback here